गूगल ने खोल दिए लॉकडाउन में जिंदगी के राज

कोरोना से बचाव को सरकार ने लॉकडाउन लागू किया ताकि लोग घरों में रहें। हम सब घरों में रहे लेकिन कुछ लोग मजबूरी या चालाकी में एक से दूसरी जगह आते-जाते रहे। ऐसे लोगों की भी पोल खोल रहा गूगल। गूगल से आपकी दिनचर्या की चुगली की आप ही के मोबाइल ने। जो लोग घरों से बाहर निकलते रहे उनकी आवाजाही भी मोबाइल के जरिए गूगल डेटा में दर्ज होती रही। गूगल ने लॉकडाउन के दौरान लोगों की गतिविधियों पर मोबिलिटी रिपोर्ट जारी की है। पूरी दुनिया की इस रिपोर्ट में अपना यूपी भी शामिल है।

रिपोर्ट के मुताबिक आवश्यक वस्तुओं (राशन-किराना) और दवा की दुकानों पर लोगों की आवाजाही में 24%कमी आई। यानी 76%लोग ही आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी के लिए ऐसी दुकानों पर गए। सबसे अधिक गिरावट मनोरंजन स्थल और बाजारों में चहलकदमी में दर्ज की गई। यह कमी 78%दर्ज की गई।

एक वजह यह भी है कि शॉपिंग मॉल बंद हैं। सिनेमाहॉल और मल्टीप्लेक्स भी बंद हैं। वॉटर पार्क और गेम पार्लर भी  बंद हैं। रिपोर्ट के अनुसार लॉकडान एक से तीन तक पार्क में घूमने वालों की संख्या में भी 56% गिरावट आई।

रिपोर्ट में ट्रांजिट स्टेशन यानी एक से दूसरे स्थान जाने वालों, बस और मेट्रो स्टेशन पर आवाजाही की संख्या में काफी यानी 64% गिरावट दर्ज की गई। इसमें भी लॉकडाउन एक और दो में लोगों ने सबसे अधिक नियम माने। दफ्तर बंद होने का असर बड़े पैमाने पर दिखा। लॉकडाउन एक के दौरान कार्यस्थल पर जाने वालों की संख्या में गिरावट 46%दर्ज की गई। रिपोर्ट के अनुसार लॉकडाउन के दौरान 21% लोग घरों में ज्यादा रहे। यानी रिहायशी इलाकों में गतिविधियां 21% ही बढ़ीं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*